साथ तेरा होना चाहिए

मैं चाहता हूँ हर खुशी और गम में
साथ तेरा होना चाहिए ।

इस रंगीन दुनिया की हर गली से गुजँरू में
पर जो रंग मुझ पर चढे,वो तेरा होना चाहिए ।
मैं चाहता हूँ हर खुशी और गम में
साथ तेरा होना चाहिए ।

जिंदगी की हर राह पर सबसे मिलूँ में
पर जिसे देखकर दिल धडके,वो चेहरा तेरा होना चाहिए ।
मैं चाहता हूँ हर खुशी और गम में
साथ तेरा होना चाहिए ।

हँसते हुए लोगो के बीच हमेशा रहूँ में
पर जिस लफ्ज को सुनकर खुश हो जाऊँ,वो तेरा होना चाहिए ।
मैं चाहता हूँ हर खुशी और गम में
साथ तेरा होना चाहिए ।

जिंदगी का हर बडे से बडा ख्याब देखूँ में
पर हर ख्याब मे साथ,तेरा होना चाहिए ।
मैं चाहता हूँ हर खुशी और गम में
साथ तेरा होना चाहिए ।

देखकर उस हुस्न को मदहोश हो जाँऊ में
पर मदहोश करने वाला वो हुस्न,तेरा होना चाहिए ।
मैं चाहता हूँ हर खुशी और गम में
साथ तेरा होना चाहिए ।

इश्क ऐसा मिले मुझे जिसकी इबादत कर सकूँ में
पर मिले अगर इश्क तो वो,तेरा होना चाहिए ।
मैं चाहता हूँ हर खुशी और गम में
साथ तेरा होना चाहिए ।

खुशी - खुशी इस दुनिया से जाने के लिए भी में तैयार हूँ 
पर मेरे ऊपर जो कफन डले,वो तेरा होना चाहिए ।
मैं चाहता हूँ हर खुशी और गम में
साथ तेरा होना चाहिए ।


तारीख: 23.06.2017                                                        रामकृष्ण शर्मा बेचैन






नीचे कमेंट करके रचनाकर को प्रोत्साहित कीजिये, आपका प्रोत्साहन ही लेखक की असली सफलता है


नीचे पढ़िए इस केटेगरी की और रचनायें