जीवन सुगम बनायें

हिलमिल हिलमिल चाँद सितारे 
रहते साथ गगन में । 
गाते और फुदकते पंछी 
मिलकर रहते वन में  ।। 

रंग रंग के, ढंग ढंग के 
सुमन साथ में खिलते । 
उपवन और मनोहर लगता 
जब तितली दल मिलते ।।

घूम घूमकर , झूम झूम जब 
सागर में मिल जातीं । 
और तरंगित होती नदियां 
सागर ही कहलातीं ।। 

हम भी आपस में मिलजुल कर 
जीवन सुगम बनायें  । 
हँसते गाते जीवन पथ पर 
आगे बढ़ते जायें ।। 
 


तारीख: 05.07.2021                                                        त्रिलोक सिंह ठकुरेला






नीचे कमेंट करके रचनाकर को प्रोत्साहित कीजिये, आपका प्रोत्साहन ही लेखक की असली सफलता है