हम परदेसी

हम परदेसी,
नही बताते माँ को अपना हाल
फ़ोन पर

नही बताते आज क्या खाया
क्या पिया,

नही बताते तबियत कैसी है।

माँ एक बार बुखार कहने पर,

हफ्तों तक पूछती रहती है।


तारीख: 20.05.2020                                                        अंकित मिश्रा






नीचे कमेंट करके रचनाकर को प्रोत्साहित कीजिये, आपका प्रोत्साहन ही लेखक की असली सफलता है