प्यार मुझसे जता रहा है कोई

प्यार मुझसे जता रहा है कोई
मुझको मुझसे मिला रहा है कोई ।

*****

अंधेरों को डरा रहा है कोई
दूर दीपक जला रहा है कोई ।

*****

मोहब्बत से मुझपे बरस कर तो
प्यास दिल की बुझा रहा है कोई ।

*****

दिल में बेचैनी सी है ही जायज़
आज नज़रे चुरा रहा है कोई ।

*****

नाम तेरे है ये शायरी मेरी
बात तो सच बता रहा है कोई ।


तारीख: 18.06.2017                                                        ऋषभ शर्मा रिशु






नीचे कमेंट करके रचनाकर को प्रोत्साहित कीजिये, आपका प्रोत्साहन ही लेखक की असली सफलता है