अनमोल पल

बड़े अनमोल और खास होते हैं वो पल
जो हम अपने बुजुर्गों के संग बिताते हैं
उनके दिए आदर्श और आशीर्वाद हमें
जीवन में आगे बढ़ने  की प्रेरणा देते हैं

छोड़कर सब कुछ थोड़े समय के लिए
चलो फिर पुरानी यादों में हम खो जाएं
बिताए थे जो हमने बुजुर्गों के साथ पल
वापस फिर उसे अपने जीवन में ले आएं

यादें पुरानी है लेकिन बड़ी ही सुहानी है
आज भी यादों में दादी की वो कहानी है
बहुत समय नहीं बिताया था उनके साथ
पर जितना भी था वह बहुत ही था खास

दादी का साथ बहुत ही प्यारा होता था
हर रात कहानी का पिटारा खुलता था
शुरू होती थी जो कहानी पहले दिन में
वो रोमांचभर कई दिनों तक चलता था

आदर्शों से भरी होती उनकी कहानियां
जीवन भर रहेंगी उनकी यह निशानियां
हर बार एक नई सीख हमें दे जाती थीं
कहानियों से जीवन जीना सिखाती थीं

उस समय नहीं मतलब  समझ पाते थे
हम तो कहानियां सुनकर  मजा लेते थे
वास्तव में संघर्षों से लड़ना सिखाती थी
किस्सों के माध्यम से  हमें समझाती थी

उनके साथ बिताए  पल बहुत खास थे
जो आज भी हमेशा बहुत याद आते हैं
जब भी मुश्किलें आती किसी मोड़ पर
उनके दिए आदर्श हमारे काम आते हैं

उनके चेहरे पर दिखती प्यारी मुस्कान
जिस पल में दादी हमारे साथ होती थी
अपने बुढ़ापे के सारे कष्टों को भुलाकर
हम बच्चों के साथ बच्चा बन जाती थी

बस यही तो होती है उनकी सच्ची खुशी
जो बुजुर्ग लोग अपनों के साथ बिताते हैं
चंद लम्हे बुजुर्गों के संग अगर बिताएं हम
तो वो अपनी ढलती उम्र भी भूल जाते हैं

बुजुर्ग जिंदगी का अनमोल हिस्सा होते हैं
उनके दिए संस्कार ही हमे इंसान बनाते हैं


तारीख: 26.07.2021                                                        मिली साहा






नीचे कमेंट करके रचनाकर को प्रोत्साहित कीजिये, आपका प्रोत्साहन ही लेखक की असली सफलता है