कुछ तो अच्छे काम कर दूँ मरने से पहले

कुछ तो अच्छे काम कर दूँ मरने से पहले
वसीयत किसी नाम कर दूँ मरने से पहले ।

जीवन बीमा,ज़मा-पूँजी,बैंक-बैलेंस,पेंशन
सब का इन्तज़ाम कर दूँ मरने से पहले ।

बँगला-गाड़ी और न बच्चों की जिम्मेदारी
बीवी को ये आराम कर दूँ मरने से पहले ।

कोई गिले,शिकवे न मलाल रहे दोस्तों को
यादगार उनकी शाम कर दूँ मरने से पहले ।

जो सताते हैं मजलूमों को दिन रात बहुत
जीना उनका हराम कर दूँ मरने से पहले ।


तारीख: 16.10.2019                                                        अजय प्रसाद






नीचे कमेंट करके रचनाकर को प्रोत्साहित कीजिये, आपका प्रोत्साहन ही लेखक की असली सफलता है